कोरोना महामारी में बिहार सरकार ने किया शानदार कामः राज्यपाल

कोरोना महामारी में बिहार सरकार ने किया शानदार कामः राज्यपाल

* ऐतिहासिक गांधी मैदान में राज्यपाल ने किया ध्वजारोहण
* राज्यपाल फागू चौहान ने किया ध्वजारोहण
* कोरोना महामारी में बिहार ने किया शानदार काम, बीमारी से राहत में रहा सबसे आगे
* राज्य सरकार ने लगभग 10,000 करोड़ रुपए खर्च किए, केंद्र सरकार से हुई आर्थिक सहायता प्राप्त
* राष्ट्रीय औसत से 20000 अधिक कोरोना टेस्ट हो रहा है बिहार में

* मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्यपाल का स्वागत किया

* राज्य में आपसी भाईचारा, सद्भाव एवं शान्ति बनाये से ही बिहार का विकास होगाःमुख्यमंत्री

पटनाः बिहार के पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की उपस्थिति में राज्यपाल फागू चौहान ने ध्वजारोहण किया। 72 वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर ध्वजारोहण के उपरांत राज्यपाल फागू चौहान ने संबोधित करते हुए 72वें स्वतंत्रता दिवस की देशवासियों तथा प्रदेशवासियों को बधाई दी।

उन्होंने अपने संबोधन में 2020 के कोरोना महामारी का जिक्र करते हुए कहा कि कोरोना ने पूरी दुनिया को प्रभावित किया, पूरा देश और बिहार भी इससे प्रभावित हुआ। राज्य सरकार ने कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए शुरू से ही प्रभावी कदम उठाए और केंद्र के लॉकडाउन के नियमों का सख्ती से पालन कराया। राज्य सरकार ने लगभग 10,000 करोड़ रुपए खर्च किए। इसके लिए केंद्र सरकार से भी आर्थिक सहायता प्राप्त हुई। इस महामारी से लोगों को राहत पहुंचाने के लिए बिहार सरकार ने सभी प्रकार के एहतियात के साथ जरूरी कदम उठाए, जिसमें अब तक राज्य सरकार 10000 करोड़ की राशि खर्च कर चुकी है। उन्होंने कहा कि अभी प्रति दस लाख की आबादी पर 1.58 लाख लोगों की जांच की जा रही है जो कि राष्ट्रीय औसत से 20000 अधिक है। वहीं कोरोनावायरस 98% से भी अधिक है जो कि देश में सबसे अधिक है।

राज्यपाल का बिहार के नाम संबोधनः

आगे राज्यपाल ने राज्य के नाम अपने संबोधन में बिहार सरकार के जन कल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी दी। राज्य सरकार द्वारा दलित महादलित आदिवासी अति पिछड़ा अल्पसंख्यक तथा महिलाओं के लिए विशेष कल्याणकारी कार्यक्रम चलाया जा रहा है। सरकार की रणनीति उन सभी नागरिकों को सशक्त बनाने की रही है जो तुलनात्मक रूप से वंचित हैं और हाशिए पर हैं। राज्य सरकार महिला सशक्तिकरण के प्रति संवेदनशील है। यह सरकार प्रमुख नीतियों का अभिन्न अंग है। सर्वप्रथम पंचायती राज संस्थाओं एवं नगर निकाय तथा प्राथमिक शिक्षकों की नियुक्ति में महिलाओं को 50% आरक्षण दिया गया। साथ ही राज्य की सभी नौकरी महिलाओं को 35% आरक्षण दिया जा रहा है। जिनका के माध्यम से 1.20 करोड़  से अधिक परिवार की महिलाएं रोजगार से जुड़ चुकी है उन्होंने कहा कि राज्य सरकार बिहार में उद्योगों के विकास के लिए भी तत्पर है। राज्य में औद्योगिक विकास एवं रोजगार के अवसर पैदा करने हेतु नई संशोधित औद्योगिक प्रोत्साहन नीति 2020 लागू की गई है साथ ही कृषि आधारित उद्योग एवं कास्ट आधारित उद्योगों को प्रोत्साहन देने हेतु नई नीति बनाई गई है  सरकार के इन प्रयासों से प्राथमिक एवं अति प्राथमिक क्षेत्रों में उद्योग लगाने में सहायता मिलेगी और युवाओं के लिए रोजगार के अवसर सृजित होंगे।

मुख्यमंत्री ने एक अणे मार्ग में किया ध्वजारोहणः

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने आवास एक अणे मार्ग में तिरंगा झंडा फहराया। इससे पहले लोगों को संदेश देते हुए उन्होंने कहा कि राज्य में आपसी भाईचारा, सद्भाव एवं शान्ति बनाये रखना है। शान्ति और सद्भाव में ही समृद्घि और प्रगति है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *