25 अप्रैल को शादी का सबसे बड़ा मुहूर्त, रविवार होने से लॉकडाउन को लेकर चिंता

25 अप्रैल को शादी का सबसे बड़ा मुहूर्त, रविवार होने से लॉकडाउन को लेकर चिंता

अप्रैल में सर्वाधिक शादियां रविवार 25 आैर 26 अप्रैल काे है। जबकि प्रशासन ने प्रति रविवार काे लॉकडाउन की घाेषणा कर दी है। इससे विवाह तैयारियाें में जुटे लाेगाें की परेशानी खासी बढ़ गई है। उनकाे चिंता सताने लगी है कि कहीं लॉकडाउन के चलते उनकाे विवाह समाराेह टलने का डर सताने लगा है। दरअसल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चाैहान ने अप्रैल में काेराेना संक्रमण के पीक की बात कहकर उन लाेगाें की चिंता बढ़ा दी है, जिनके परिवार में अप्रैल, मई एवं जून माह में बिटिया या बेटे का विवाह है। एक दिन पहले मुख्यमंत्री ने समीक्षा बैठक में भी कहा है कि अभी एक्टिव केस 12 से13 हजार के बीच है, जाे अप्रैल माह में पचास हजार तक पहुंचने की आशंका है। एेसे में आगामी समय में प्रदेश में लॉकडाउन व अन्य बंदिशें अभी आैर बढ़ सकती हैं।

त्याेहार भी हाेंगे प्रभावित : काेराेना के कारण पिछले साल सभी त्याेहार फीके रहे थे, इस साल लाेगाें काे लगा था कि अब वह त्याेहार पूरे उत्साह से मना सकेंगे। मगर जिस प्रकार से अचानक काेराेना मरीजाें की संख्या बढ़ी है, उसे देखते हुए इस साल भी त्याेहार लाेगाें काे बंदिशाें में ही मनाना पड़ेंगे।

मैरिज गार्डन आैर बैंड की बुकिंग : अप्रैल, मई आैर जून में जिन लाेगाें के यहां विवाह हैं, वह पहले ही बैंड बाजे आैर मैरिज गार्डन की बुकिंग कर चुके हैं। पिछले साल भी काेराेना मरीजाें की संख्या बढ़ने के कारण लाेगाें काे विवाह समाराेह टालना पड़े थे। अब लाेगाें काे डर है कि कहीं इस वर्ष भी एेसी ही स्थिति न आ जाए। वहीं मैरिज गार्डन संचालक भी इसकाे लेकर खासे चिंतित हैं। हाल ही में हलवाई, क्राकरी, बैंड काराेबारियाें जैसे अन्य संगठनाें की बैठक हुई है। जिसमें कहा गया है कि काेराेना के कारण यदि बुकिंग रद्द हाेती है ताे इस बार पैसे वापस करना मुश्किल हाेगा। क्याेंकि पैसे वापस किए ताे बिजली का खर्च, संपत्तिकर, बैंक की कीश्त वह कैसे चुकाएंगे। एेसे में पहले से बुकिंग कराने वालाें की परेशानी बढ़ सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *