वर्तमान राजनीतिक स्थिति की मांग पर रालोसपा का जदयू में हुआ विलयःउपेंद्र कुशवाहा

वर्तमान राजनीतिक स्थिति की मांग पर रालोसपा का जदयू में हुआ विलयःउपेंद्र कुशवाहा

  • राष्ट्र और राज्यहित में, समान विचारधारा वाले नीतीश का नेतृत्व किया स्वीकार
  • बड़े भाई तुल्य मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को उपेंद्र कुशवाहा ने बताया
  • नीतीश को जनता का सम्मान मिला है, अब रालोसपा उनके नेतृत्व में काम करेगी
    पटनाः रालोसपा का जदयू में विलय, उपेंद्र कुशवाहा ने कहा- अब हम मुख्यमंत्री नीतीश के साथ। पिछले कई दिनों से लग रही अटकलों के बाद आज उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी राष्ट्रीय लोक समता पार्टी का जदयू में विलय हो गया। राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी घोषणा की। इस मौके पर रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि राष्ट्र और राज्य के हित में, बिहार में समान विचारधारा वाले लोगों को एक साथ आना चाहिए। यह वर्तमान राजनीतिक स्थिति की मांग है। इसलिए, राष्ट्रीय लोक समता पार्टी ने नीतीश कुमार के नेतृत्व में जद (यू) के साथ विलय का फैसला किया है। अब हम उनके साथ खड़े हैं।उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार मेरे बड़े भाई की तरह हैं। मैंने हमेशा उनका सम्मान किया है। अब हम नीतीश कुमार के नेतृत्व में काम करेंगे। रालोसपा का अब जदयू में विलय कर दिया गया है। अब हम साथ मिलकर काम करेंगे। उपेंद्र कुशवाहा साल 2013 में जेडीयू से अलग हुए थे। इसके बाद उन्होंने अलग पार्टी बनाई थी। राष्ट्रीय परिषद के साथियों के साथ बैठक कर विमर्श कर निर्णय लिया गया कि देश और राज्य की परिस्थिति को देखते हुए समान विचारधारा के जो लोग हैं, समाज ने जिन्हें स्वीकार किया है उन्हें एक मंच पर उपस्थित होना चाहिए। इन सभी को देखते हुए रालोसपा ने निर्णय लिया कि इतने दिनों के संघर्ष किया है, समाज के आखिरी पायदान पर खड़े लोगों के लिए, युवाओं किसानों, जरुरतमंदों को उचित न्याय दिलाने के लिए हमारा संघर्ष जारी रहेगा। उसके स्वरुप में थोड़ा परिवर्तन होगा। बड़े भाई तुल्य मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी को जनता ने सम्मान किया है रालोसपा अब उनके नेतृत्व में काम करेगी। जदयू के साथ मिलकर हमलोग काम करेंगे। रालोसपा की पूरी जमात अब जदयू के साथ खड़ी होगी। रालोसपा का मिलन अब जदयू के साथ मिलन कर लेंगे हमलोगों का फैसला है। आगे दोनों दलों के लोग मिलकर सभी साथी बैठेंगे और आगे की कार्रवाई करेंगे। इस बार का जो चुनाव हुआ, जनता ने जो जनाधार दिया, उसमें जनता ने जो कहा है कि जनता ने जो कहा वही हमने किया है। तमाम राष्ट्रीय परिषद के नेताओं ने मिलकर निर्णय लिया गया है। किसी प्रकार की सौदेबाजी नहीं है। पद की कोई लालसा नहीं है। बड़े मंच से गरीबों की सेवा करने का मौका मिलेगा। मैं लिखकर दे सकता हूं कि मुझे कोई जगह या लालच नहीं है। जनता की मजबूती के लिए हमने ये फैसला लिया है। जो भी श्री नीतीश कुमार के द्वारा दायित्व दिया जाएगा उसको वो करेंगे।
    इस बार विधान सभा चुनाव जो हुआ। इसमें जनता का सीधा आदेश हुआ उपेंद्र कुशावहा जी आप बिना देर किए हुए नीतीश कुमार जी के साथ हो लीजिए। कुछ लोग मुंगेरी लाल का हसीन सपना देख रहे थे। हमलोगों ने नीतीश कुमार जी के साथ मिलकर काम किया था। कुछ दिनों अलग होकर काम किया फिर साथ होकर विकास का काम करेंगे। कुछ लोग फिर से बिहार के खजाना को खाली करना चाहते हैं। जनता का आदेश पालन करते हुए हमने फैसला आधिकारिक आज लिया है जबकि चुनाव के बाद ही निर्णय ले लिया गया था। पूरा जमात आज से जो भी हमारे साथ जुड़े हुए हैं वो सभी जनता दल के हो गए। अब आगे आदरणीय नेता नीतीश कुमार जी के नेतृत्व में चलना है। बिना कोई कंडिशन हमने नीतीश जी के नेतृत्व में बिहार की सेवा करना है। हमने बहुत उतार चढ़ाव देखा है। किताब में पढ़कर बहुत ज्ञान नहीं मिलता, लेकिन इस लंबे समय में अनुभव के आधार पर अब नीतीश कुमार जी के नेतृत्व में ही सेवा करुंगा। काम बहुत हुआ है। पार्टी की मजबूती के लिए हमलोगों ने कोई शर्त नहीं रखा है, जो भी निर्णय लेंगे नीतीश कुमार जी रालोसपा के एक-एक साथी बेहिचक काम करेंगे। पार्टी की मजबूती देने की जरुरत है। बिहार से देश की बड़ी अपेक्षा है। आप लोगों से अपेक्षा है कि इस पार्टी को नंबर वन पार्टी बनाना है। सामाजिक न्याय और धर्म निरपेक्षता को मजबूत करने के लिए हमसब लोगों को मिलकर काम करना है। आज हम फिर से पुराने संकल्प को दोहराते हैं याद दिलाते हैं इस काम में पूरी मजबूती के साथ खड़ा रहेंगे। आगे आने वाले दिनों में हमसब लोग अपनी अहम भूमिका निभाएंगे। आदरणीय वशिष्। बाबू की बड़ी भूमिका रही है, डंडा लेकर खड़ा रहते हैं, इनका आदेश हुआ तो हम एक हो गए। मैं इनके प्रति आभार व्यक्त करते हूं। ललन सिंह, विजय चौधरी सबसे मुलाकात होती रही है। आदरणीय नीतीश कुमार से आग्रह करते हैं कि आप विकास करते रहिए हम आपके साथ हैं। सभी पुराने साथी हैं सबलोगों से मुलाकात को ताजा करते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *